हॉल में नहीं बजा राष्ट्रगान तो बिना मूवी देखें बाहर निकली हॉकी कप्तान: वंदना कटारिया

0
284

कुछ ही दिन पहले सुप्रीम कोर्ट द्वारा लिया गया फैसला:  थिएटर में फिल्म से पहले राष्ट्रगान बजाना होगा।

जैसा कि आप सबको ये बात जरुर पता होगा कि कुछ ही दिन पहले सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि थिएटर में फिल्म से पहले राष्ट्रगान बजना और इस दौरान सभी दर्शकों को अनिवार्य तौर पर खड़ा होना होगा।  सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद हर तरफ इसपर एक बहस शुरू हो गई है। कोई इस फैसले के समर्थन में दिख रहा तो कुछ लोग इसकी निंदा भी करते दिख रहे हैं।

इसी बीच एक भारतीय खिलाड़ी (भारतीय देशभक्त) इस कारण मूवी हॉल से बिना फिल्म देखे बाहर निकल गईं, क्योंकि उस थिएटर में फिल्म के पहले राष्ट्रगान नहीं बजाया गया था। भारतीय हॉकी टीम की कप्तान वंदना कटारिया अपने परिवार के साथ हरिद्वार के एक मॉल में ‘डियर जिंदगी’ फिल्म देखने गई थीं। वंदना अपने परिवार के साथ फिल्म देखने पहुंची थीं। खबरों की मानें तो उस थिएटर में फिल्म के पहले राष्ट्रगान नहीं बजाया गया और बिना राष्ट्रगान के ही फिल्म शुरू कर दिया गया।

कप्तान वंदना को यह बात पसंद नहीं आई और वो गुस्से में फिल्म देखे बिना ही हॉल से बाहर आ गईं। उन्होंने हॉल के मैनेजर से इसकी शिकायत भी की। हालांकि हॉल मैनेजर का कहना था कि हमें इस संबंध में अभी तक कोई आदेश नहीं मिला है। मैनेजर के इस बात से वंदना की नाराजगी और भी बढ़ गई और उन्होंने मैनेजर को कहा कि राष्ट्रगान के सम्मान के लिए किसी भी तरह के आदेश की जरूरत नहीं। देश का सम्मान तो हम सबको करना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘अगर हम राष्ट्रीय प्रतीकों का सम्मान नहीं करते, तो हम खुद को भारतीय कहलाने के लायक नहीं हैं।’

loading...

LEAVE A REPLY