बाथरूम में रेनकोट पहन कर नहाना मनमोहन से सीखें, इतने घोटाले के बावजुद बेदाग : मोदी

0
556

राज्य सभा में अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने का्ँग्रेस पर जमकर निशाना साधा। अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काँग्रेस और पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह पर उनके सरकार के कार्यकाल में हुए भ्रष्टाचार को लेकर काफी कुछ कहा. मोदी ने कहा कि इनके कार्यकाल में इतना कुछ हो गया और इन पर एक दाग नहीं लगा। उन्होंने कहा बाथरूम में रैनकोट पहन कर नहाना डॉक्टर साहब (मनमोहन सिंह) से सीखें।

मोदी ने एक बार फिर नोटबंदी के फैसले को सही ठहराते कहा कि भ्रष्‍टाचार और काले धन के खिलाफ लड़ाई कोई राजनीतिक लड़ाई नहीं है और न ही यह किसी राजनीतिक दल को परेशान करने की लड़ाई है. उन्होंने कहा कि ऐसा सोचने का कोई कारण बिल्कुल नहीं है। उन्होंने कहा कि ऐसा सोचने का कोई कारण बिल्कुल नहीं है. प्रधानमंत्री ने कहा कि कालेधन से सबसे ज्यादा पीड़ित गरीब लोग हैं. कालेधन की समानांतर अर्थव्यवस्था के कारण सबसे ज्यादा नुकसान गरीबों का होता है. यही नहीं कालेधन का इस्तेमाल आतंकवाद और नक्‍सलवाद बढ़ाने में होता है.

कांग्रेस के सांसदों ने सदन से वॉक आउट किया

मोदी ने खास कर पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह पर तंज कसते हुए कहा कि बाथरूम में रेनकोट पहनकर नहाना मनमोहन सिंह से सीखें मोदी ने कहा कि इतने घोटाले के बाद भी मनमोहन सिंह पर कोइ दाग नहीं लगा। मोदी के इस टिप्पणी के बाद सदन में जोरदार हंगामा हुआ और कांग्रेस के सांसदों ने सदन से वॉक आउट किया.

मोदी द्वारा किए गए हमले पर जब मनमोहन सिंह से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह कुछ नहीं कहना चाहते। वहीं पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा, ‘ऐसे कमेंट बर्दाश्त नहीं किए जा सकते, इसलिए वॉक आउट किया। पहले किसी प्रधानमंत्री ने किसी पूर्व पीएम के लिए ऐसे शब्द नहीं बोले।’

मोदी ने गिनाये नोटबंदी के फायदे,

मोदी ने नोटबंदी के फायदे गिनाते हुए कहा कि दुनिया में कहीं इतना बड़ा फैसला नहीं हुआ. नोटबंदी पर पहली बार जनता और सरकार साथ आई, क्योंकि आम तौर पर जनता और सरकार आमने-सामने होती है।

मोदी ने कहा 40 दिनों में 700 माओवादियों ने आत्‍मसमर्पण कर दिया जो कि अद्वितीय है। नोटबंदी से परेशानियों के बावजूद कोई हिंसा नहीं हुई, क्योंकि देश बुराइयों से लड़ने के लिए आतुर है. यहाँ तक कि जो लोग जाली नोट बना रहे थे, उन्‍हें आत्‍महत्‍या करनी पड़ी।

पेपरलेस बैंकिंग पर जोर

पेपरलेस बैंकिंग पर मोदी ने जोर देते हुए कहा कि पुरी दुनिया पेपरलेस बैंकिंग की ओर जा रही है । और भारत किसी से कम नहीं है इसलिए भारत को भी डिजिटल लेनदेन को बढावा देना चाहिए। मोदी ने कहा कि यह कोइ कि विपक्ष का यह कोइ मुद्दा नहीं है।

loading...

LEAVE A REPLY