खुशखबरी: GST में सरकार ने किये ये बदलाव अब लोगों को होंगे ये फायदे…

0
27

अब 28 प्रतिशत कर स्लैब में केवल 50 आइटम, यह पहले 227 था। सरकार ने जनता की माँग को देखते हुए सामान के कर में बदलाव किये हैं ।

एक बड़े फैसले में, जीएसटी परिषद ने आज चॉकलेट, पौष्टिक भोजन, संगमरमर, दुर्गंधहारक, शेविंग क्रीम और सेनेटरी उत्पादों सहित अधिकांश चीजों को 28 प्रतिशत कर स्लैब को संशोधित कर 18 प्रतिशत करने का निर्णय लिया, पहले 28 प्रतिशत कर स्लैब में 227 सामान थे लेकिन अब 50 रह गये।

जीएसटी परिषद ने यह निर्णय लिया और केवल 50 आइटम ज्यादातर लक्जरी सामान 28 फीसदी कर के अंदर रखने का फैसला किया है। आम खपत की सभी वस्तुओं को 28 प्रतिशत से घटाकर 18 प्रतिशत कर की दर से घटा दिया गया है। चबाने वाली गम, चॉकलेट, शेविंग आइटम, शैम्पू, त्वचा क्रीम जैसे बड़े पैमाने पर उपभोग के सामानों पर टैक्स, जिसका राजस्व निहिता ज्यादा नहीं है, को कम कर दिया गया है, गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) परिषद की बैठक के दौरान मोदी ने संवाददाताओं से ये बात कही। मोदी ने कहा कि उच्च कर वर्ग में कम मदों की अनुमानित राजस्व हानि सालाना 20000 करोड़ रुपये होने का अनुमान है।

मोदी ने कहा कि यह महत्वपूर्ण है कि जीएसटी शासन के तहत प्रणाली स्थिर हो, क्योंकि चालू वित्त वर्ष की समाप्ति के लिए सिर्फ चार महीने शेष है।

गुवाहाटी में दो-दिवसीय जीएसटी परिषद की बैठक आयोजित की गई थी, जिसके तीन महीने बाद नई कर व्यवस्था की प्रगति की समीक्षा की गई । मीटिंग के समय मीडिया को आने की अनुमति नहीं थी।

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, जो सूचना प्रौद्योगिकी संबंधी समस्याओं से निपटने के लिए मंत्रियों के समूह के अध्यक्ष थे,

loading...

LEAVE A REPLY