सोये शेर थे मोदी लोगों ने उकसाकर जगाया, अब वह दहाड़ रहे हैं : अमर सिंह

0
327

लखनऊ: समाजवादी पार्टी में रोज नया विवाद जन्म ले रहा है। कोई किसी की बुराई कर रहा है तो कोइ किसी का समर्थन कर रहा है। और खास कर जब से अमर सिंह की समाजवादी पार्टी में वापसी हुई है, . कभी अखिलेश उन्हें दलाल करार देते हैं, तो कभी रामगोपाल उन्हें मतलबी बताते हैं. इसके बावजूद अमर खुद को मुलायमवादी बताते हुए तमाम हमले को झेल रहे हैं.

इतना होने के बाद सब्र का बांध टूटा और वे यह कह बैठे कि मैं किसी का गुलाम नहीं हूं कि सबकुछ सहता रहूंगा. उन्होंने नोटबंदी पर अलग स्टैंड लिया और खुलकर बोले कि हां मैं नोटबंदी का समर्थन करता हूँ उन्होंने यह भी कहा कि हम कालेधन का अंत चाहते हैं.

उन्होंने नोटबंदी पर नरेंद्र मोदी की तारीफ की और कहा मैं हृदय से उनका इस निर्णय के लिए अभिनंदन करता हूं. मोदी ने सबको एक मौका दिया है कालेधन से मुक्त होने का. लोगों ने उन्हें उकसाया भी है. कालेधन को लेकर, ऐसे में सोया शेर जाग गया है और दहाड़ रहा है और सामने आने वाले को खायेगा ही.

अमर सिंह ने इशारों इशारों में यह भी कह दिया कि उनके राज्य में भ्रष्टाचार है. लेकिन मैं अखिलेश यादव पर कुछ भी टिप्पणी नहीं कर सकता क्योकि वे मेरे भाई मुलायम के बेटे हैं,

loading...

LEAVE A REPLY