पाकिस्तान को चेतावनी : जरूरत पड़ी तो सेना की ताकत भी दिखाएंगे नए सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत

0
261

पाकिस्तान सीधी चाल नहीं चलने वाला, जैसा कि आपने कहावत भी सुनी होगी लात के देवता बात से नहीं सुनने वाला। वहीं भारत के नए सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि

बिपिन रावत ने कहा है कि भारत के पास नियंत्रण रेखा के पार बने आतंकवादियों के अड्डों के खिलाफ कार्रवाई करने का हक है, और अगर ज़रूरत पड़ी तो सेना और सर्जिकल स्ट्राइक करने से हिचकिचाएगी नहीं.

प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने पदभार ग्रहण करते ही पाकिस्तान का नाम लिए बिना उसे सख्त चेतावनी दी है। जनरल रावत ने कहा कि हम अमन चाहते हैं, मगर जरूरत पड़ने पर सीमा पर ताकत का इस्तेमाल करने से परहेज नहीं बरतेंगे। नए सेना प्रमुख ने यह भी कहा कि हमारी कोशिश शांति बनाने की होगी, मगर इसे कोई हमारी कमजोरी समझने की भूल न करे।

इस बार सेना प्रमुख की नियुक्ति पर काफी विवाद हुआ, कांग्रेस, वाम मोर्चा समेत कई विपक्षी पार्टी सेना प्रमुख की नियुक्ति को लेकर सवाल उठाए …

जैसा की आपको बता दें इस बार की नियुक्ति पर वरिष्ठता की अनदेखी की गइ थी और कई विपक्षी पार्टी सवाल भी उठाए इसके जवाब में सेना प्रमुख ने इसे सरकार का फैसला बताया। दोनों वरिष्ठ अधिकारियों के अपने अपने पदों पर बने रहने की घोषणा की तारीफ भी की। गौरतलब है कि जनरल रावत ने रविवार को 27वें सेना प्रमुख के तौर पर पदभार ग्रहण कर लिया। इस दौरान उन्हें परंपरा के मुताबिक साउथ ब्लॉक में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।

पदभार संभालने के बाद ही मीडिया से मुखातिब जनरल रावत ने पाकिस्तान का नाम लिए बिना उसे सीधी चेतावनी दे डाली। साफ तौर पर कहा कि हमारी कोशिश शांति बहाली की होगी। मगर जरूरी हुआ तो हम सीमा पर ताकत के इस्तेमाल करने में रत्ती भर भी संकोच नहीं करेंगे।

रावत के अनुसार 29 नवंबर को किए गए सर्जिकल स्ट्राइक ‘अच्छी योजना’ थी पाकिस्तान को ऐसे ही जवाब देना होगा।

loading...

LEAVE A REPLY