एंटी रोमियो स्क्वॉड के फायदे – About Anti Romeo Squad in Uttar Pradesh

0
373

उत्तर प्रदेश के मौजुदा मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी पुरी तरह अपने चुनावी मुद्दों पर काम करने लगी है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश के विकास के लिए हर संभव प्रयास किये जाएँगे। जैसा कि आपको बता दें मुख्यमंत्री पद की शपथ लिए कुछ ही दिन हुए और अपना काम करना शुरु कर दिया । योगी ने बताया कि धर्म और जातिवाद से हटकर विकास का काम करेंगे । योगी ने गुंडागर्दी हटाने की भी बात कही है। योगी का मौजुदा महत्वपुर्ण फैसला बुचड़खाना बंद करना और महिलाओं से छेड़छाड़ को रोकने का है जैसा कि आपको बता दें पहले लड़कियों को मनचले का छेड़छाड़, बलात्कार, भद्दा कमेंट यहां तक की तेजाब से हमला के साथ – साथ शारीरी प्रताड़ना भी सहना पड़ता था, लेकिन अब इस तरह के घटनाओं को रोकने के लिए एंटी रोमियो स्क्वॉड का गठन किया जिसमें राह चलते लड़कियों से छेड़छाड़ करने वालों के लिए कठोर सजा दिया जाएगा। यह अभियान भाजपा सरकार का एक चुनावी वादा था और इसपर काम कर रही है। पिछली सरकार लड़कियों की छेड़छाड़ रोकने में नकाम रही थी।

मोहम्मद कैफ का योगी को समर्थन कहा ‘टुंडे मिले या ना मिलें, गुंडे ना मिलें

एंटी रोमियो स्क्वॉड को लेकर प्रदेश के डीजीपी एस जावीद अहमद ने साफ किया है कि इस दल का मकसद सिर्फ लड़कियों और महिलाओं की सुरक्षा करना है. कोई मॉरल पुलिसिंग नहीं करना है। वहीं आईजी गणेश ने बताया कि एंटी रोमियो स्क्वॉड के लिए अलग से पुलिस बल बढ़ाने की जरूरत नहीं है. सभी थानों में पर्याप्त पुलिस बल हैं, बस महिला आरक्षियों की संख्या कहीं कम हो सकती है, उसे जरूरत के हिसाब से मैनेज कर लिया जाएगा.

कैसे काम करेगा एंटी रोमियो स्क्वॉड

महिलाओं के बढ़ते छेड़खानी, बलात्कारी और किडनेप को रोकने के लिए एक दल का गठन किया गया जिसमें महिलाओं,छात्राओं के साथ अभद्र टिप्पणी, छेड़खानी करने वालों को सजा दी जाएगी। जिले के हर थाने में एंटी रोमियो दल का गठन किया गया है. एंटी रोमियो स्क्वॉड में गौकशी मामले में धरपकड़, भू माफिया पर नकेल और फरार अपराधियों को पकड़कर जेल भेजने की कार्रवाई भी शामिल है.

क्या पार्क, मॉल या अन्य सार्वजनिक जगहों पर युगल जोड़ी से भी ये स्क्वॉड पूछताछ करेगा ??

अगर स्क्वॉड टीम को शंका होती है तो वह पुछ सकता है और आईडी देखने के लिए माँग सकता है, अगर उसकी आईडी देखने और जवाब से संतुष्ट होने के बाद उसे जाने दिया जाएगा. अगर वह संतोषजनक जवाब नहीं दे पाता है तो उसे थाने लाया जाएगा, इस दौरान उसके माता-पिता या परिजनों को भी बुलाकर काउंसिलिंग की जाएगी. वहीं इस दौरान अगर कोई लड़की शिकायत करती है तो उस पर भी कार्रवाई फौरन की जाएगी. लेकिन अगर दोनों अगर मर्जी के मुताबिक घुम रहे हैं तो उन्हें स्क्वॉड टीम कुछ नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि हमारा मकसद किसी को डराना नहीं है, बस कानून व्यवस्था बनाए रखना है।

एंटी रोमियो स्क्वॉड के लिए जारी किया जाएगा हेल्पलाइन नंबर (Anti-Romeo squad Helpline Number)

इस गठन को और सशक्त बनाने के लिए स्पेशल Helpline Number जारी किये जाएँगे लेकिन फिलहाल लोग पुलिस हेल्पलाइन 100 और 1090 पर फोन कर स्क्वॉड टीम से मदद ले सकते हैं।

एंटी रोमियो का असर (Anti Romeo Squad Effect)

इस अभियान से अच्छा फायदा होता दिख रहा है। इससे पहले बहुत से मनचले कॅालेजों, बाजारों में लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करते नजर आते थे लेकिन जब से यह अभियान चला मनचले का करतुत ही बदल गया।

यह भी पढ़ें….

आदित्यनाथ योगी के बारे में खास बातें जो आपने कभी नहीं सुना होगा….

योगी बोले – भ्रष्टाचार-दंगा मुक्त होगा यूपी, जातिवाद नहीं विकास की होगी बातें..

loading...

LEAVE A REPLY