77 साल के बिहारी लड़के को 75 साल की जर्मन लेडी से हुआ फेसबुक पर प्यार, दोनों ने की शादी

0
681

जमुई, हमलोगों ने बहत बार सुना है कि सोशल मीडिया पर प्यार अधिकतर युवा करते हैं और यह आम बात भी है बहुत बार यह भी होता है कि लोग फेसबुक, ट्विटर या ह्वाट्सएप के जरिए प्यार करते हैं और कुछ लोग शादी भी कर लेते हैं। जैसा कि हमलोगों ने सुना है कि “प्यार अंधा होता है” और यह एक आँखों देखा उदाहरण है जब 77 साल के बिहारी लड़के (शत्रुघ्न) ने सात समंदर दूर जर्मनी में रहने वाली एक 75 साल की वृद्ध प्रेमिका को फेसबुक के जरिए दिल दे बैठा ।

कहाँ हुइ शादी ?

फेसबुक से प्यार का इजहार 77 साल के बिहारी लड़के और 75 साल की जर्मन लेडी से हुआ लेकिन इतना ही नहीं 75 साल की प्रेमिका अपनी 77 साल के प्रेमी से शादी रचाने के लिए सात समंदर पार जर्मनी से बिहार आ गई और मंदिर में शादी रचाई। बिहार के जमुई जिला के पत्नेश्वर मंदिर में भगवान को साक्षी मानते हुए इन दोनों ने सात फेरे लिए और हमेशा के लिए एक-दूसरे के हो गए। मंदिर में हो रही इस अनोखी शादी को देखने के लिए लोगों का तांता लगा रहा। इस दोनों प्रेमी जोड़े को शादी रचाते देख लोग यही कह रहे थे कि प्रेम की कोई उम्र नहीं होती, यह कभी भी हो सकता है।

r
शत्रुघ्न के बारे में

शत्रुघ्न नाम का शख्स जर्मनी में इंजीनियर थे वे जमुई जिले के धोवघट गांव के निवासी हैं। शत्रुघ्न ने शादी के बाद बताया कि हम दोनों का प्यार फेसबुक के जरिए हुआ था । शत्रुघ्न ने कहा, 75 वर्षीया इडलट्रड हबीब जर्मनी की रहने वाली रिटायर्ड जज है।

उन्होंने अपनी पुरानी कहानी बताते हुए कहा कि हम इंजीनियर थे और वर्ष 1962 में कोलकाता से इंजीनयरिंग की पढ़ाई करने के बाद जर्मनी में रहकर नौकरी करते थे। 16 साल पहले मैं रिटायर हुआ तो उसके बाद बिहार आ गया। 2014 में मेरी पत्नी का देहांत हो गया।

शत्रुघ्न ने कहा कि पत्नी के गुजर जाने के बाद अकेला महसूस करने लगे और अकेलापन दुर करने के लिए फेसबुक का सहारा लिया। जहाँ जर्मन की रिटायर्ड जज इडलट्रड हबीब से प्यार हो गया। दोनों पहले एक दुसरे से सोशल मीडिया के माध्यम से बातें करते थे इसके बाद मोबाइल पर बातें होने लगीं जिसके बाद उन्होंने मिलने का प्रोग्राम बनाया। उनकी पहली मुलाकात जर्मनी के एयरपोर्ट पर हुई।

x30-1485761497-biharimarriage.jpg.pagespeed.ic.TFX6T-TDao

पहली मुलाकात ने ही दोनों को इतना इमोशनल कर दिया कि दोनों एक दुसरे को शादी से नहीं रोक पाए और पहली मुलाकात में ही शादी करने का फैसला कर लिया। जर्मनी की रहने वाली पूर्व जज इडलट्रड हबीब ने कहा कि उनका भी हाल कुछ इसी तरह का था। रिटायर होने के बाद उनके पति का देहांत हो गया। पति के देहांत हो जाने के बाद वह काफी अकेली हो गई थी। फिर हमारी दोस्ती फेसबुक के जरिए शत्रुघ्न प्रसाद से हुई और हम दोनों ने शादी करने का फैसला किया । जिसके बाद शत्रुघ्न ने अपने परिवार वालों से बातचीत की और इस शादी के लिए हां कर दिया । फिर हम इंडिया पहुंचे और बिहार के जमुई जिले के पत्नेश्वर मंदिर मे हिंदू रीति-रिवाज के अनुसार शादी कर ली। इस शादी से हम दोनों और हम सभी के परिवार वाले काफी खुश हैं।

loading...

LEAVE A REPLY